img14

लखनऊ।
हर नौकरी वाली परीक्षा की तरह इस बार फिर उत्तर प्रदेश सिविल कोर्ट स्टाफ के केंद्रीकृत भर्ती 2018-19 की ग्रुप डी की परीक्षा में भी धांधली की कोशिश हुई और धरे गये 11 साॅल्वर। एसटीएफ ने कानपुर व लखनऊ के परीक्षा केंद्रों से गैंग के सरगना समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन गिरफ्तार लोगों में  साल्वर व अभ्यर्थी दोनों शामिल हैं। 
एसटीएफ को रविवार को मुखबिर से सूचना मिली कि अमित कुमार उर्फ राहुल यादव ने कानपुर नगर में गोविन्द नगर स्थित खालसा इंटर कॉलेज में अभ्यर्थी कुलदीप यादव की जगह साल्वर अभिनव यादव तथा गुजैनी स्थित एचपी शिक्षा निकेतन इंटर कॉलेज में अभ्यर्थी अवनीश यादव की जगह सॉल्वर आदित्य यादव को बैठाने आया है। इसके बदले उसने 4 लाख रुपये लिए हैं। इस सूचना पर मुख्यालय स्थित टीम इंस्पेक्टर अरुण कुमार के नेतृत्व में कानपुर रवाना की गई। टीम ने कानपुर नगर पहुंचकर साल्वर अभिनव यादव पुत्र राजबहादुर सिंह, आदित्य यादव पुत्र राम शंकर यादव तथा सरगना अमित कुमार उर्फ राहुल यादव को गिरफ्तार कर लिया। अभ्यर्थी कुलदीप यादव पुत्र विनोद यादव तथा अवनीश यादव पुत्र कमलेश यादव अभी फरार हैं। 
इसी तरह एसटीएफ ने लखनऊ से परीक्षा के अभ्यर्थी विनीत कुमार व प्रवीण कुमार, साल्वर अविनाश कुमार, अंकित व विकास कुमार वैश्य तथा सरगना दिवाकर सिंह, पुष्पक कुमार व सुचित यादव को गिरफ्तार किया। अभ्यर्थी चन्द्रकान्त पुत्र विरेन्द्र कुमार अभी फरार है।