कानपुर

वाहन की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, आधार कार्ड से शवों की शिनाख्त हुई

कानपुर। बर्राथानाक्षेत्र में मंगलवारसुबह एनएच 2 हाईवे पर एक अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मार दी, जिसमें पिता-पुत्र की मौत हो गई। इस ददर्नाक हादसे में बेटे ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। वहीं, पिता की अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में मौत हो गई। सूचना पर पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमाॅर्टम के लिए भिजवाया। पुलिस के मुताबिक, बिधनू थाना क्षेत्र केसकरापुर गांव में रहने वाले विनोद और उनका बेटा मनीष पनकी स्थित इंड्रास्ट्रियल एरिया में प्राईवेट नौकरी करते हैं। मंगलवार सुबह विनोद और मनीष बाइक से ड्यूटी जा रहे थे, उसी समयएक अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। जिसमें मनीष की मौत हो गई थी। मनीष की जेब से मिले आधार कार्ड से दोनों के शवों की शिनाख्त हो पाई। बर्रा इंस्पेक्टर सतीश कुमार के मुताबिक सड़क हादसे में पिता पुत्र की मौत हो गई। किसी अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मारी है। हादसे की सूचना परिजनों को दे दी गई है।
Read More

डेढ़ घन्टे की बारिश ने आईना दिखाया स्वच्छता अभियान को,पूरे शहर पानी-पानी जाम अलग से

कानपुर । शहर में आज डेढ़ घन्टे की बारिश से भले ही आम आदमी को गर्मी से राहत मिली हो पर सरकारी तंत्र की कारगुजारिओ की पोल खोल कर रख दी खासतौर पर चलाई जा रही स्वच्छता अभियान की नमामि गंगे सरीखी योजनाओं को आईना दिखाया है। शहर ने क्या फर्क देखा मौजूदा और पूर्वर्ती सरकारों के कामकाज में क्योकि पहले भी जरा सी बारिश से जलभराव होता था जाम लगता था आज भी वैसा है जबकि करोड़ो रूपये खर्च के दिये गए स्वच्छता अभियान में। शहर में धूप के साथ सुबह का आगाज हुआ, और दोपहर तक सूरज के तेवर गर्म रहे. लेकिन, शाम ढलते ही बादलों ने डेरा जमाया और डेढ़ घंटे की झमाझम बारिश ने शहरवासियों को जमकर भिगोया. बारिश बंद होते ही मौसम सुहाना हुआ तो लोग बाहर निकल आए. जिसके बाद पूरे शहर को जाम ने अपने आगोश में लिया। मॉनसून की पहली बारिश होते ही लोगों के चेहरे खिले नजर आए. कई जगह लोगों ने बारिश का आनंद उठाया तो जगह जगह जलभराव ने परेशानी भी बढ़ा दी. मौसम विभाग की मानें तो हवा बदलने से मानसूनी बारिश ने संभावित दो दिन पहले शहर में दस्तक दे दी है. सुबह से मौसम साफ था और धूप भी तेज थी. उमस भरी गर्मी में लोग पसीने से तरबतर हो रहे थे. दोपहर तक गर्मी से तंग लोग भी जल्द बारिश की कामना कर रहे थे. शायद, ईश्वर ने उनकी सुन ली दोपहर बाद अचानक आसमान ने बादलों ने डेरा जमाया और करीब चार बजे झमाझम बारिश शुरू हो गई. लगभग डेढ़ घंटे तक मॉनसून की पहली झमाझम बारिश ने लोगों ने भिगो दिया. बारिश बंद हुई मौसम खुशगवार हो गया और लोग बाहर निकल आए. हवा में हल्की ठंडक आने से लोगों को गर्मी से राहत मिली. मॉनूसन की पहली बारिश ने नगर निगम की नाला सफाई व्यवस्था की पोल खोल दी। जगह-जगह नालों में सिल्ट जमा होने से सड़कों और गलियों में जलभराव हो गया. इसके चलते कई मोहल्लों और इलाकों में लोगों का आवागमन मुश्किल हो गया. ज्यादातर इलाकों में पानी भर जाने से लोगों की परेशानी बढ़ गई. घरों में जलभराव होने से परिवार के लोग पानी बाहर फेंकते नजर आए. वहीं बारिश के बाद पूरे शहर को जाम ने अपने आगोश में ले लिया, घंटो लोग जाम के झाम से जूझते रहे।
Read More

मैजिक-डीसीएम में टक्कर, देवी दर्शन कर वापस लौट रहे तीन लोगों की मौत

कानपुर. घाटमपुर मेंरविवार को सवारियों से भरी मैजिक एक डीसीएम से टकरा गई। हादसे में तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई जबकि पांच लोग घायल हो गए। घायलों को आनन फानन में अस्पताल पहुंचाया गया जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस के अनुसार यह घटनाघाटमपुरके मुगल रोड पर बेंदा गांव के पास की है। मैजिक सवार लोग मूसानगर कानपुर देहात से देवी के दर्शन करके वापस लौट रहे थे।मृतक व घायल थाना बिधनू के कठारा गांव निवासी बताए जा रहे हैं। सूचना मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है। हादसे में शेखर राजपूत (50), सियादुलारी (75), नंदा देवी (64) की मौत हुई है। वहीं घायलों मेंउमा (22),कमला (65),विपिन कुमार (28),कृष्णा देवी (35) शामिल है।
Read More

डाॅक्टर की पत्नी को बंधक बनाकर लूट, पिटाई से महिला की हालत नाजुक

कानपुर। नवाबगंज इलाके के विष्णुपुरी में शनिवार देर रात लूटेरों ने डॉक्टर की पत्नी को बंधक बनाकर जमकर मारपीट की। महिला के सिर पर भारी चीज से प्रहार कर गंभीर रुप घायल कर दिया। इसके बाद लूटेरे जेवरात, नगदी समेत उनकी कार लेकर फरार हो गए। महिला ने किसी तरह से इस घटना की सूचना पड़ोसियों और पुलिस को दी। पुलिस ने महिला को निजी अस्पताल में एडमिट कराया है। उनका इलाज आईसीयू में चल रहा है। पुलिस ने बताया कि नवाबगंज थाना क्षेत्र स्थित विष्णुपुरी में रहने वाली अनीता मित्तल घर पर अकेली रहती थीं। पति डॉ अनुराग मित्तल की मौत के बाद उन्होंने बेटियों की शादी की। दरअसल विष्णुपुरी गेटेड सोसायटी है। यदि सोसायटी के अंदर कोई आता है तो बिना गार्ड के एंट्री नहीं होती है। लूटेरे सोसायटी के अंदर घुसने के बाद अनीता मित्तल के यहां पहुंचकर लूटपाट की। लूटेरों ने वहां से भागने के लिए अनीता मित्तल की कार का इस्तेमाल किया ताकि गार्ड को शक नहीं हो और असानी से गेट खुल जाए। 2009 में अनीता मित्तल के पति अनुराग मित्तल की हो गई थी हत्या अनीता मित्तल के पति अनुराग कैश लेकर ट्रेन से दिल्ली जा रहे थे। एसी कोच में वो सफर कर रहे थे। लूटेरों ने उनसे लूट करने बाद हत्या कर दी थी। इसके बाद उनको चलती ट्रेन फेंक दिया था। पुलिस इस चर्चित मामले का खुलासा करने नकाम साबित रही है। डिप्टी एसपी अजीत सिंह चौहान के मुताबिक विष्णुपुरी में अनीता मित्तल रहती हैं। जिनके पति डॉक्टर थे। वो अकेली रहती थीं। बीती रात लूटेरों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया है। इस घटना के सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है जल्द ही इस घटना का खुलासा कर लिया जाएगा।
Read More

नमामि गंगे की टीम को महिला पार्षद के पति ने बनाया बंधक, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर छुड़ाया

कानपुर। शुक्रवार को यहां की एक महिला पार्षद ने पति के साथ मिलकर नमामि गंगे टीम के एक दर्जन सदस्यों को पेड़ से बांधकर बंधक बना लिया। आरोप है कि पार्षद पति ने कर्मचारियों के साथ जमकर बदसलूकी भी की। नमामि गंगे की टीम ने बंधक बनाए जाने की सूचना उच्चधिकारियों को दी गई। अधिकारियों ने चकेरी पुलिस की मदद से पार्षद के चुंगल से कर्मचारियों छुड़ाया। वहीं पुलिस ने पार्षद और उसके पति को हिरासत में लिया है। पुलिस ने बताया कि चकेरी थाना क्षेत्र स्थित गांधीग्राम में बीते एक साल से नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत गहरी सीवर लाइन का काम चल रहा था। सीवर लाइन का काम बहुत ही धीमी गति से चल रहा था। जिसकी वजह से स्थानीय लोगों को आने जाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। वार्ड 26 की पार्षद विजय लक्ष्मी के पति मनोज यादव इसकी शिकायत कई बार उच्चधिकारियों से कर चुके थे। लेकिन सीवर लाइन काम तेज गति नहीं पकड़ रहा था। शुक्रवार को नमामि गंगे के कर्मचारी सीवर लाइन का काम करने पहुंचे तो पार्षद पति मनोज यादव ने पूरी टीम को बंधक बना लिया। इसके बाद उन्हे पेड़ से बांध दिया इस दौरान पार्षद विजय लक्ष्मी भी मौजूद रहीं। देखते-देखते स्थानीय लोगों जमावड़ा लग गया। कुछ स्थानीय लोगों ने पार्षद पति की इस करतूत का विरोध भी किया। लेकिन मनोज यादव ने किसी की बात नहीं सुनी और उनके साथ जमकर गाली गलौच की। नमामि गंगे की टीम में अनुभव, जय सिंह, राशिद , पंकज , समीर अहमद और दीपक गुप्ता समेत दर्जनों लोग मौजूद थे। सीओ कैंट रवि सिंह के मुताबिक थाना चकेरी अंतर्गत नमामि गंगे की टीम अपना काम करने के लिए आई थी। क्षेत्रीय पार्षद द्धारा उनको बंधक बनाने का मामला प्रकाश में आया था। सभी बंधको मुक्त कराया गया और क्षेत्रीय पार्षद को आवाश्यक पूछताछ के लिए थाने में लाया गया है।
Read More

सीवर की सफाई करने उतरे दो कर्मचारियों की जहरीली गैस की चपेट में आने से मौत

कानपुर। शहर में बुधवार तड़के सीवर चैंबर की सफाई करने उतरे दो सफाई कर्मचारियों की जहरीली गैस की चपेट में आने से मौत हो गई। कर्मचारियों के मरने की खबर जैसे ही ठेकेदारको मिली तो वो मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों कर्मचारियों को बाहर निकलवाया और हैलट अस्पताल के उपचार के लिएभेजा, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने बताया कि बाबू पुरवा कोतवाली क्षेत्र स्थित अजीतगंज इलाके में सीवर लाइन चोक होन की वजह से काफी शिकायतें मिलीं थीं। सीवर चैंबर से सिल्ट निकालने के लिए बुधवार तड़के लगभग 3 बजे सफाई कर्मचारियों की टीम पहुंची थी। चैंबर का ढक्कन खोलने के बाद जैसे ही सफाई कर्मचारी कल्लू (23) नीचे उतरा वो जहरीली गैस की चपेट में आ गया और बेहोश होकर चैंबर के भीतर गिर गया। कल्लू की ये हालत देखकर उसे बचाने के लिए रॉबिन भी चैंबर में उतर गया और वो भी जहरीली गैस की चपेट में आ गया। दोनों बेहोश होकर नाले के भीतर गिर गए। दोनों को इस हालत में देख ठेकेदार मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मास्क और सुरक्षा बेल्ट के साथ एक शख्स को चैंबर के अंदर उतारा और दोनों को बाहर निकलवाया। दोनों सफाई कर्मचारियों को हैलट अस्पताल भेजा गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
Read More

कानपुर के घाटमपुर में भी दरिदिगी

कानपुर। कानपुर में घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में दो युवकों ने बालिका (12) से सामूहिक दुष्कर्म किया। घटना के बाद से आरोपी फरार हैं। जानकारी होने पर बालिका की मां उसे लेकर बुधवार की शाम घाटमपुर कोतवाली आई। पुलिस तत्काल हरकत में आई और कार्रवाई शुरू की है। कोतवाली ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और छेड़छाड़ में मुकदमा दर्ज किया गया है। क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला ने बताया कि उसका पति ट्रक चालक है, वह घर से बाहर था। मंगलवार को महिला रिश्तेदार के घर गई थी। घर पर उसकी दो पुत्रियां बड़ी 12 वर्ष और छोटी 9 वर्ष थीं। देर रात पड़ोस में ही रहने वाले दो युवक आजाद (24) और अजमेरी (22) उसके घर पर घुस गए। आरोपियों ने बड़ी बेटी से दुष्कर्म किया। बालिका की चीखें सुन पड़ोसी घर से निकलकर उसके घर की ओर भागे। तबतक आरोपी वहां से फरार हो गए। बुधवार सुबह बालिका का मां घर लौटी तो उसे घटना मालूम हुई। महिला अपनी दोनों बेटियों को साथ लेकर कोतवाली आई। कोतवाल हरमीत सिंह ने बताया कि जानकारी होते ही वह मौके के लिए रवाना हो गए हैं। बताया कि घटना की जांच और आरोपी युवकों की तलाश की जा रही है। कोतवाल ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ इससे पहले भी थाने में छेड़खानी और दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज हो चुका है। बताया कि दोनों घरों से फरार हैं।
Read More

भाजपा सांसद पचौरी बोले-मेरे हाथ मे होता तो बलात्कारियो का मर्डर तक कर देता

कानपुर। अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियत और फिरहमीरपुर, जालौन में बच्चियों के साथ रेप कीघटनाओं परकानपुर से भाजपा सांसद सत्यदेव पचौरी का भी गुस्सा फूट पड़ा। बुधवार को उन्होंने तल्ख भरे अंदाज में पूछा-'अब बताइए ढाई साल की, पांच साल की बच्ची से रेप अमानवीय है कि नहीं है। मेरा बस चलेऔर कानून मेरे हाथ में हो तो हम उसका मर्डर कर दें।' उन्होंने कहा कि 'क्याहै ये ढाईसाल की बच्ची से रेप करना। उसको काट देना मार देना। ये दूषित मानसिकता समाज की है, आज जो अपराध हो रहे हैं उसके लिएसमाज जिम्मेदार है।' सांसदपचौरी इन्द्रप्रस्थ वेलफेयर सोसायटी के संयोजन में पुलिस कर्मियों के सम्मान समारोह में बतौर परमुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए थे। सांसद नेकहा कि यदि सरकार की मंशा ठीक है तो जिम्मेदार अधिकारी भी सही ढंग से काम करते हैं। यदि सरकार की मंशा ठीक नहीं होगी तो अधिकारी भी मनमानी करने लगते हैं। दरअसल, अलीगढ़ के टप्पल में 30 मई को अपहृतबच्चीकाशव 2 जून को कूड़े के ढेर में मिला था। आरोपियों ने अमानवीय घटना को अंजाम दिया था।जिसके बाद काफी हंगामा हुआ था। पुलिस ने चारआरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया है।
Read More

भाजपा की जीत से बौखला गई ममता दीदी

कानपुर केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला किया। कहा- भाजपा की जीत से ममता दीदी बौखला गई हैं। बंगाल में भाजपा के बढ़ते जनाधार की वजह से उनके पैर उखाड़ने लगे हैं। उनको अब अपनी कुर्सी खतरे में नजर आ रही है। फतेहपुर लोकसभा सीट भाजपा सांसद साध्वी निरंजन ज्योति केंद्र सरकार में मंत्री हैं। गंगा दशहरा की पूर्व संध्या पर मंगलवार शाम को कानपुर के सरसैया घाट पर गंगा आरती का कार्यक्रम था। इसमें वेमुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलितहुईं। उन्होंने मां गंगा की वैदिक मंत्रोचारण के साथ पूजा अर्चना की। इसके साथ ही सामूहिक रूप से गंगा आरती की। गंगा दशहरा की दी शुभकामनाएं केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गंगा दशहरा की सभी को शुभकामना देती हूं। ये मेरा सौभाग्य है कि मां गंगा की आरती करने का शुभ अवसर प्राप्त हुआ। नई सरकार के गठन के बाद ये पहला मौका है कि मां गंगा की आरती करने का मौका मिला है। ये वहीं गंगा जी है जिनके दर्शन तो करते थे लेकिन जल से आचमन करने में लोगो को संकोच लगता था। गंगा अविरल एनिर्मल बहे इसके लिए सरकार प्रयासरत है। सीएम ममता पर बोला हमला उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल के हालत बद से बत्तर है। दीदी के तानाशाह रवैये की वजह से जनता परेशान है। लगातार हिंसा की घटनाओं में इजाफा हो रहा है बीजेपी कार्यकर्ताओ पर एक तरफा कार्यवाई की जा रही है मुझे लग रहा है कि चुनाव का समय था तो चुनावी माहौल में कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही थी। ममता बेनर्जी पूरी तरह से बौखलाहट में है ,बंगाल में उनके पैर उखड़ चुके है। मैंने पहले ही कहा था कि सपा.बसपा का गठबंधन सिर्फ चुनाव के लिए है । चुनाव के बाद जैसे ही रिजल्ट आएगा बीजेपी की सरकार बनेगी सपा बसपा गठबंधन का तलाक शुरू हो जाएगा।
Read More

कानपुर के मतदाता निकले फिसड्डी, सिर्फ 51.09 फीसद ही पड़े वोट

कानपुर। कानपुर लोकसभा क्षेत्र में सुबह सात बजे 1532 बूथों पर मतदान की शुरुआत हो गई। लोकतंत्र के महापर्व में भागीदारी के लिए मतदाता भी निकल पड़े लेकिन बंद ईवीएम ने उन्हें रोक दिया। कई बूथों पर ईवीएम खराब होने से वोटिंग बाधित रही। शुरुआती दो घंटे में 8.10 प्रतिशत वोटिंग हुई थी और एक बजे तक 34.3 प्रतिशत मतदान, तीन बजे तक 40.30 प्रतिशत और शाम पांच बजे तक 48.18 फीसद मतदान हुआ। शाम छह बजे मतदान खत्म होने पर कानपुर के सिर्फ 51.09 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। उम्मीद लगाई जा रही थी कि इस बार मतदाता प्रथम श्रेणी लाएंगे पर वे पिछले चुनाव के आंकड़े को भी नहीं छू सके। बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में 51.83 फीसद मतदान हुआ था। कानपुर लोकसभा क्षेत्र में सुबह मतदान के लिए मतदाताओं ने तो उत्साह दिखाया लेकिन खराब ईवीएम ने उसे कम कर दिया। कानपुर संसदीय क्षेत्र में मतदान की शुरुआत धीमी रफ्तार से हुई। यहां साढ़े नौ बजे तक आर्य नगर विधानसभा क्षेत्र में 9, किदवईनगर में 11, गोविंद नगर में 7.5, कैंट में 9.5 और सीसामऊ में 8 फीसद मतदान हो सका। एक बजे तक 34.3 प्रतिशत मतदान हो सका। दोपहर तीन बजे तक का वोटिंग प्रतिशत 40.30 हो गया है। इसमें गोविंद नगर विधानसभा में 41.50, सीसामऊ में 37.03, आर्य नगर में 39, किदवई नगर में 41 और कैंट 42 फीसद मतदान हो चुका। शाम पांच तक 48.18 प्रतिशत वोटिंग हुई है। इसमें गोविंद नगर विधानसभा क्षेत्र में 48.75, सीसामऊ में 51.76, आर्यनगर में 44.33, किदवई नगर में 51 और कैंट में 45 फीसद मतदान हुआ। आरबीआरडी कालेज के बूथ संख्या 47 की ईवीएम खराब हो गई। बर्रा के आरएस पोलिंग सेंटर के बूथ 178, 179 में ईवीएम खराब हो गई। किदवईनगर के बूथ संख्या 84, 85, 86 में ईवीएम मशीन खराब हो गई। जीआईसी चुन्नीगंज में तीन ईवीएम खराब होने से मतदान बाधित हुआ। परमट के प्राइमरी पाठशाला परमट में बूथ संख्या एक और दो में ईवीएम खराब होने के चलते आधे घंटे बाद वोटिंग शुरू हो सकी। किदवई नगर हायर सेकेंडरी स्कूल बूथ संख्या 274 में ईवीएम खराब होने से मतदाता कतार में खड़े इंतजार करते रहे। कुछ वोटर मतदान न करके लौट भी गए। किदवई नगर बूथ संख्या 187, 212, 168, 259 में ईवीएम खराब होने से दो घंटे बाद तक वोटिंग शुरू नहीं हो सकी। गोविंद नगर के महात्मा गांधी इंटर कॉलेज में तीन ईवीएम खराब होने से मतदान बाधित रहा। बाबूपुरवा में अमीन गर्ल्स इन्टर कॉलेज वीवीपैट काम नहीं करने से वोटरों को निराशा हुई। यूपी किराना स्कूल में बूथ संख्या 282 में मतदान में परेशानी हुई। शास्त्री नगर के श्रमिक कल्याण भवन में बने मतदान बूथ पर ईवीएम खराब होने से इंतजार के बाद कई वोटर लौट गए। सीओ अभद्रता करने में भाजपा नेता पर मुकदमा ग्वालटोली के मतदान केन्द्र प्राथमिक विद्यालय परमट में पोलिंग एजेंट के अंदर जाने और वोटर लिस्ट लेकर टिक करने को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया। जानकारी पर भाजपा नेता सुरेश अवस्थी भी पहुंच गए और विवाद शुरू हो गया। इस बीच महापौर प्रमिला पांडेय भी आ गईं और उन्होंने समझाकर मामला शांत कराया। कुछ ही देर में पूरे घटनाक्रम का वीडियो वायरल हो गया, जिसमें भाजपा नेता सुरेश अवस्थी हंगामा करते हुए सीओ से अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। इसके बाद हरकत में निर्वाचन अधिकारियों ने प्रकरण की फौरी जांच कराई, घटना की पुष्टि होने के बाद कार्रवाई के निर्देश दिए। क्षेत्राधिकारी कर्नलगंज जनार्दन दुबे की तहरीर पर थाना ग्वालटोली में सुरेश अवस्थी व अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।
Read More